Gajals of K.P. Anmol

इसमें विज्ञापन शामिल हैं

Poems / Gajals of K.P. Anmol. These poems are being published in book named Ek umar Mukammal.
K.P. Anmol is editor of Sahitya Ragini Web Patrika and well known Gajalkar of Rajasthan. 80 famous gajals of K.P. Anmol are collected in this app.
आप अंदाज़ा लगा सकते उनके लेखन का उनकी पहले शेर से....

वो हमारी खुद्दारी से वाकिफ नहीं अनमोल,
हम टूटकर बिखर जाते है मगर गिरा नहीं करते |
और पढ़ें
छोटा करें
4.3
89 कुल
5
4
3
2
1
लोड हो रहा है. . .

नया क्या है

- beautiful look
- share button added
और पढ़ें
छोटा करें

अतिरिक्त जानकारी

अपडेट करने की तारीख
30 दिसंबर 2015
आकार
4.9M
इंस्‍टॉल की संख्या
5,000+
वर्तमान वर्शन
5.KP.1
Android ज़रूरी है
2.3 और बाद वाले वर्शन
सामग्री रेटिंग
अनुमतियां
इनकी ओर से ऑफ़र किया गया
gktalk_imran
©2019 Googleसाइट की सेवा की शर्तोंनिजताडेवलपरकलाकारGoogle के बारे में|जगह: संयुक्त राज्यभाषा: हिन्दी
यह आइटम खरीदकर, आप Google Payments से लेन-देन कर रहे हैं और Google Payments सेवा की शर्तों और निजता सूचना से सहमत हो रहे हैं.