‘पंख’ पत्रिका छात्रों के ज्ञानवर्द्धन एवं मनोरंजन के लिए ही निकाली जाती है। इस पत्रिका में राज्य विशेष की संस्कृति और सभ्यता को बहुत ही सरल तरीके से आपके सामने लाने का प्रयास किया गया है, ताकि आप अपने राज्य झारखंड को जानें, पहचानें और उसमें अपना योगदान देने के लिए स्वयं को तैयार करें।

प्रारंभिक शिक्षा में गुणवत्त-शिक्षा की संप्राप्ति एवं शत-प्रतिशत बच्चों को विद्यालय से जोड़ते हुए उसे शैक्षणिक माहौल प्रदान करने के उद्देश्य से अभिनव प्रयोग किए जा रहे हैं। इस क्रम में ‘जीरो ड्रॉप आडट पंचायत’ के माध्यम से जन-प्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित की जा रही है तथा इनकी सहभागिता से राज्य की शैक्षणिक स्थिति को नया आयाम दिया जा रहा है। ‘‘सक्षम हैं हम...’’ कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों को गुणवत्त-शिक्षा के साथ-साथ इनके आत्मविश्वास को गति प्रदान की जा रही है। बच्चों को रुचिकर, ज्ञानवर्द्धक एवं विद्यालय के प्रति आकर्षित करने के उद्देश्य से पंख मासिक बाल-पत्रिका की व्यवस्था की गई है।

पत्रिका नन्हे-मुन्ने बच्चों को शिक्षित करने का और उनका ध्यान पुस्तकों व कहानियों की ओर आकर्षित करने का सबसे सहज व सुलभ माध्यम है। इसलिए ‘पंख’ पत्रिका में मनोरंजन, ज्ञान-विज्ञान, महापुरुष, लेख, कविताएँ और जानकारियों को स्थान दिया गया है। ‘पंख’ में झारखंड से जुड़े महापुरुषों, पर्व-त्योहारों, प्रश्नोत्तरी, आओ बुद्धि लगाएँ, आओ बच्चो रंग भरें, खेल एवं सभी तरह के विविध क्षेत्रों की जानकारियाँ देने का एक सफल प्रयास किया गया है।

ज्ञान को मनोरंजन के माध्यम से सरल भाषा में रोचक अंदाज में प्रस्तुत किया जाए तो वह बच्चों को आसानी से समझ में आता है। इसलिए पत्रिका में रंगीन चित्रों का अधिक प्रयोग किया गया है। यह पत्रिका जहाँ आपको ढेरों जानकारियाँ प्रदान करेगी, वहीं आपको कहानी की पत्रिका की तरह मनोरंजक भी लगेगी। हर बच्चे की रुचि को ध्यान में रखते हुए पत्रिका में ‘गलती बताओ’, ‘प्रश्नोत्तरी’ आदि को स्थान दिया गया है। आप सभी प्यारे बच्चे देश के निर्माण की एक महत्त्वपूर्ण कड़ी हैं। इसलिए आप सभी का शिक्षित और योग्य होना बहुत जरूरी है। जब ‘पंख’ आपके हाथों में होगी तो मुझे पूरी उम्मीद है कि कुछ ही समय में आप सभी बच्चों की आशाओं को पंख लग जाएँगे और आप इस पत्रिका को पढ़ने के साथ-साथ इसमें दिए गए अभ्यास को भी शीघ्र कर डालेंगे। आपकी रुचि के अनुसार इस पत्रिका को हर महीने नए कलेवर व अंदाज में प्रस्तुत किया जाता रहेगा।

‘पंख’ के पिटारे में आपके मनोरंजन के साथ ही ज्ञानवर्द्धन की भी पूरी सामग्री मौजूद रहती है। अब तो हम ‘कहानी रचो’ प्रतियोगिता के माध्यम से आप सभी बच्चों को भी इस से पूरी तरह जोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। आप कहानी लिखेंगे तो आपके लेखन को बढ़ावा मिलेगा। आपके मन में नए विचार आएँगे और फिर उन विचारों से आप नवाचार की ओर प्रेरित होंगे। सीढि़याँ-दर-सीढि़याँ ही कार्य को विस्तार मिलता है और फिर सफलता।
Read more
4.5
23 total
5
4
3
2
1
Loading...

What's New

March Issue
Read more

Additional Information

Updated
April 27, 2017
Size
5.3M
Installs
1,000+
Current Version
1.0
Requires Android
4.2 and up
Content Rating
Everyone
Permissions
Offered By
Jharkhand Education Project Council
©2018 GoogleSite Terms of ServicePrivacyDevelopersArtistsAbout Google|Location: United StatesLanguage: English (United States)
By purchasing this item, you are transacting with Google Payments and agreeing to the Google Payments Terms of Service and Privacy Notice.